Uncategorized

बुली भैया

बुली भैया
9th में होंगे
जब हम 4th में थे
ऑटो में उनका एक छत्र राज था
कोने वाली सीट पर बस उनका ही अधिकार था
वह कूटनीती के ज्ञाता थे
अंडरटेकर वाली कूटनीती के
जब मौका मिलता हमें कूट देते थे
ऑटो में उनको बैग टच हुआ तो
कूट दिया
उनके जोक पर हम हंसे नहीं तब
कूट दिया
उनके लिए दो वाली पेप्सी नहीं लाए तो
कूट दिया
अगले साल उनके पापा का ट्रन्सफर हो गया
और हम सबने मिलकर पास के हनुमान मंदिर
में दो वाली पांच पेप्सी चड़ाई
खैर, आज उन्होंने मेंटल हेल्थ पर लम्बा स्टेटस डाला
उसमें उन्होंने लिखा बचपन में कैसे उनके पापा का
गुस्सा मम्मी पर निकलता था, मम्मी का उनपर
और फ़िर उनका हमपर…
पितृसत्ता के इस चक्रव्यूह को क्या मेरा उनके
स्टेटस पर दिया एक लाइक तोड़ पायेगा

Writing Prompts

Aadarniya Whatsapp Uncle

Aadarniya Whatsapp Uncle,
Asha hain aap sakushal honge,
Sabse pehle toh Whatsapp ki taraf se Bharat ke rashtragaan ko sarvashreshta rashtragaan milne ki shubhkaamnaayein
Aap aise hi agar Harr Harr Chokidaar ki maala japte rahenge aur Congress ko niyamit roop se din main 4 baar gaali dete rahenge  (Jabki jab wo asal main gadbad jhala kar rahi thi, aap galle pe baithe the)…Tabhi yeh desh acche dino ki aur agrasar hoga
Thode din pehle Chintu se baat hui, usko aapne MBA ke liye America bhej kar bahut accha kiya, kam se kam wahaan wo #BlackLivesMatter ka board leke toh khada hai nahi toh yahaan IIT main selection na hone par bade bade Anti reservation rant daal raha tha…
Sudhir aur Amish bhai aapke hospital ke kharche ki baat karein na karein,  deshbhakti ka bharpoor khayal rakh rahe honge…
Kuch dino se ek shanka mann main yoga kar rahi hai…uss din aapne subah subah Buddha ka quote daala aur shaam tak saare Markaz waalon ko khatam kardo ka forward bheja, Kuch samajh nahi aaya… shayad shaam ko aap economy badha rahe honge kaaju ke saath…
Kaaju se yaad aaya…wo uss din aapne lockdown main pehli aur aakhri baar #CookForYourWifeChallenge main jo moong ke pakode banaye the uski recipe zaroor bhejiyega
Sorry sorry maine aapka zyada waqt le liya… Aapko toh Whatsapp pe 21 logon ko China Ka Asli Sach forward bhi karna hoga…
Toh abhi ke liye main vida leta hun…
Sabko yaad kijiyega
Khaas Karke Gau Mata ko

Aagyakaari Anti National,
Aap jiska lifafa 501 se 101 karne waale hain wo waala ladka

Hindi Poetry

बॉम्ब स्क्वाड का कुत्ता


एक बार बॉम्ब स्क्वाड के कुत्ते से मैंने पूछा
तुम्हें बारूद ढूंढते हुए
इब्राहीम के इत्र की खुशबू अायी
या शिव के धतूरे की
वह गुराया…
मैं पीछे हटा
उसने गुस्से में जवाब दिया
मुझे तो बस
उन दोनों के बीच
नफ़रत फैलाने वाले
की बदबू अायी।

Hindi Poetry

सपनों के बीज

हम सब अपने सपनों को बोते हैं
पर सबकी ज़मीन एक सी नहीं होती
सबको एक सी धूप नहीं मिलती
कांटे सबके हिस्से आते हैं
पर सबको माली की मदद नहीं मिलती

अकेले रहकर भी जो ठान ले तो
कांटों में भी गुलाब उगादे
साथ मिलने पर भी जो भटके तो
सूरजमुखी की भी चमक लुटा दे

लहलहाकर खुद
कभी जो सहरा दे दूसरों को तो
सदियों तक अपनी महक फैलाए
कभी जो कुचल दे तो
चंद महीनों में खुद सड़ जाए

हम सब अपने सपनों को बोते हैं

Hindi Poetry

नशे में धूत

जब हम लाखों टन अनाज को सड़ते देख कुछ नहीं कहते,
जब उस लाखों टन सड़े अनाज को शराब में घुलते देख कुछ नहीं कहते,
तो हम सब बिना पिये नशे में धूत हैं
और नशे में धूत लोगों को अपनी लाचारी नहीं दिखती
दूसरों की लाचारी की बात तो छोड़ ही दीजिए…